Banyan Tree Information in Hindi – बरगद वृक्ष के बारे में जानकारी

Banyan Tree Information in Hindi

 बरगद का पेड़ एक भारतीय मूल का पेड़ है। इसीलिए भारत की ज्यादातर इलाकों में बरगद के पेड़ पाया जाता है। यह पेड़ भारत की विशाल पैरों में से एक है बरगद का पेड़ आकार मैं बहुत ही बड़े होते हैं।

About Banyan Tree in Hindi

बरगद के पेड़ का जीवन काल बेहद ही लंबे होते हैं। यह पेड़ जितना ज्यादा पुराना होती है इसकी दालों में से एक प्रकार का पतले जेरे निकलती है जो कि इस पेड़ को दूसरे पैरों से अलग करता है और लोगों को अपने पति आकर्षित करता है एक पुराना और वयस्क बरगद का पेड़ देखने में बेहद सुंदर होता है।
Banyan Tree Information in Hindi

Banyan Tree Information in Hindi

बरगद का पेड़ भारत का राष्ट्रीय पर्व है क्योंकि यह हमारे देश भारत से पौराणिक काल से जुड़ा हुआ है और हिंदू धर्म में भी बरगद का पेड़ बहुत ही महत्वपूर्ण है। हिंदू धर्म में मान्यता है कि बरगद पैर में भगवान निवास करते हैं इसीलिए इस पेड़ को देव देवियों का पीर भी कहा जाता है।
 बरगद की नीचे की भगवान श्री कृष्ण विश्राम करते थे और अपनी मधुर मुरली की सुरीली सुर से सभी का दिल बहलाते थे इसी पेड़ के नीचे भगवान बुद्धदेव अपनी भी ज्ञान प्राप्त किए थे और इसी पेड़ के नीचे बैठकर बे ध्यान करते थे बरगद कि पेड़ की इतनी सारी विशेष ताऊ के कारण ही यह पेड़ हिंदू धर्म में बेहद ही महत्वपूर्ण है और इसीलिए यह भारत का राष्ट्रीय पर कहां जाता है।
बरगद के पेड़ को  विशाल ताकतवर और मजबूत की  प्रतीक भी माना जाता है। क्योंकि बरगद का बड़ा आकार सबसे विशाल और सबसे बड़ा होने को दर्शाता है। इसका बड़े-बड़े जड़ इस पेड़ को सबसे ताकतवर बनाता है और बरगद के मोटे डालिया और फैलाव आकार स्कोर सबसे ज्यादा मजबूत बनाता है।
 बरगद दुनिया की सबसे ज्यादा फैलाव पैरों में सीखें एक है दुनिया के सबसे बड़े बरगद का पेड़ भारत की आंध्र प्रदेश में है जो कि लगभग 4.7 जाएगा गिरा हुआ है और यह अकेले पेड़ 20000 से भी ज्यादा लोगों को छाया दे सकती है।

Information About Banyan Tree in Hindi

  • भारत की स्वाधीनता आंदोलन के दौरान अंग्रेजों ने हजारों वीरों को बरगद की पेट में फांसी की सजा दिए थे।
  • बरगद एक पवित्र पीर है इसीलिए भगवत गीता में भी इसकी कई बार उल्लेख मिलती है।
  • भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की सबसे पहली प्रतीक चिन्ह में बरगद का पेड़ था जो कि बाद में जाकर परिवर्तन कर दिया गया।
  • दुनिया की सबसे बड़ी बरगद का पेड़ भारत की आंध्र प्रदेश में है।
  • बरगद की इतनी सारी विशेषताओं के कारण ही यह भारत का राष्ट्रीय पर कहा जाता है।
  • हिंदू धर्म के अनुसार बरगद एक पवित्र पीर है इसीलिए यह देव देवियों का फिर भी कहा जाता है।
  • भारत और हिंदू धर्म के साथ बरगद के पेड़ का इतने सारे संबंध के कारण ही भारत में इसी पूजा जाता है।
  •  हजारों साल पहले से ही आयुर्वेदिक दवाइयों में बरगद का पेड़ ने बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रखा है।
  • यह पेड़ जितना ज्यादा व्यस्त होता है इसकी डाली उसे एक प्रकार का पतली डा जड़े निकलना शुरू हो जाती है जो कि इस पेड़ को दूसरों से अलग करता है।
  • बरगद एक भारतीय मूल का पेड़ है जो कि भारत के साथ-साथ अन्य कई देशों में जैसे पाकिस्तान बांग्लादेश श्रीलंका में भी पाया जाता है।

हमें उम्मीद है कि आपको लेख ( Banyan Tree Information in Hindi ) पसंद आया होगा। यदि आपको यह लेख ( Banyan Tree Information in Hindi ) पसंद आता है तो अपनी दोस्तों के साथ इस लेख को जरूर शेयर करें और अगर हमारे लेख के ऊपर आपका कोई सवाल और सुझाव है तो नीचे दिए गए टिप्पणी बॉक्स पर जरूर बताएं। ताकि हम अपनी लेख सुधार कर पाए और इस लेख को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

About Mridul Das

This is Mridul Das owner of www.aboutinhindi.com and professional Entrepreneur, Online Businessman Blogger, SEO Expert, affiliate marketer, Youtuber.

View all posts by Mridul Das →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *