main logo
WhatsApp Group Join Now

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर, क्या है मंदिर और मंदिर के महंत के चमत्कारों की कहानी?, जाने धाम से सम्बंधित सभी जानकारियों को (Manauna Dham Khatu Shyam Temple, What is the story of the Temple and the Miracles of the Temple’s Mahant?, know all the information related to the Dham)

SOCIAL SHARE

आज आप इस ब्लॉग में खाटू श्याम मंदिर और मंदिर के महंत के चमत्कारों के बारे में जानेगे। खाटू श्याम का वास्तविक मंदिर राजस्थान के खाटू नामक शहर में स्थित है। इस मंदिर में ही खाटू श्याम के कटे हुए शीश की पूजा की जाती है। जिसके बारे में हम अपने पिछले ब्लॉग में सारी जानकारी को बता चुके हैं, उसे भी एक बार जरूर पढ़े। हम जिस खाटू श्याम मंदिर की बात कर रहे हैं, वह बरेली जिले के आँवला शहर में स्थित है। जिसे “मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर” के नाम से जाना जाता है। यह मंदिर खाटू श्याम और उन्ही के भक्त ओमेंद्र चौहान की वजह से आज बरेली और देश में काफी लोकप्रिय हो रहा है।

मंदिर से जुड़ी हुयी सभी जानकारी को हम इस ब्लॉग के माध्यम से जानेगे। यहाँ आप किस प्रकार से पहुंच सकते हैं? आप कहाँ रुके? और भी बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारी को हम इस ब्लॉग के माध्यम से जानेगे।

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर कहाँ है?

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के बरेली जिले के आँवला शहर के एक छोटे से गांव मनौना में स्थित है। यह मंदिर बरेली से 44 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। बरेली से मनौना धाम तक की दूरी को आप आराम से सड़कमार्ग द्वारा कम्पलीट कर सकते हैं।

क्या है मनौना धाम का इतिहास?

बरेली और उससे जुड़े हुए कुछ शहरों का इतिहास बहुत ही पुराना रहा है। आँवला और उससे जुड़े कुछ जगहों के बारे में कहा जाता है की यह जगह पांडवो से जुड़ी हुयी रही है। पांडवो ने अपने वनवास के दौरान एक साल का एकांत वास भी काटा था। महाभारत काल से जुड़े होने कारण ही इस जगह का काफी महत्व रहा है।

मनौना धाम के और यहाँ बने मंदिर का इतिहास ज्यादा पुराना नहीं है। इस मंदिर का अस्तित्व 2022 में आया, जब इस मंदिर के महंत ओमेंद्र चौहान के द्वारा लोगो के कष्ट का निवारण शुरू हुआ। यहाँ लोगो के द्वारा बताया जाता है की ओमेंद्र चौहान जी के द्वारा बहुत से भक्त अपनी बिमारी से छुटकारा पा चुके हैं।

क्या है मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर की कहानी?

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर के बारे में बताया जाता है की मनौना में खाटू श्याम के एक परम भक्त ओमेंद्र चौहान हर वर्ष राजस्थान में स्थित खाटू श्याम मंदिर में बाबा के दर्शन के लिए जाया करते थे। जब 2019 के लास्ट में भारत में कोरोना की शुरुआत हुयी तब कोरोना के केस बढ़ने के कारण पूरे भारत में लॉक डाउन लगा दिया गया। लॉक डाउन की वजह से महंत जी बाबा के दर्शन के लिए राजस्थान नहीं जा सके। जिसके कारण महंत जी बहुत दुखी हुए और अपने घर में ही बाबा की पूजा और उनके दर्शन करने की इच्छा लिए हर वक़्त बाबा से प्रार्थना करने लगे।

एक रात महंत जी के सपने में आकर खाटू श्याम उनके घर के पास में ही मंदिर बनाने के लिए कहते हैं और अपने भक्तो के कष्ट निवारण का ज्ञान बताते हैं। उसके बाद महंत ओमेंद्र चौहान ने यह बात अपने घर में बताई और मंदिर का निर्माण शुरू कराया और यहाँ आने वाले लोगो को उनके कष्टों और बिमारियों से ठीक करना शुरू किया। तो कुछ इस प्रकार है इस धाम से जुड़ी हुयी कहानी।

ऐसे ही इस धाम के प्रति लोगो की हल्के हल्के आस्था गहरी होती चली गयी। अब इस धाम में एक मेले जैसी रौनक रहती है और यहाँ लोग दूर दूर से धाम में खाटू श्याम के दर्शन करने और महंत जी का आशीर्वाद लेने आते हैं।

मनौना धाम क्यों प्रसिद्ध है?

मनौना धाम यहां बने मंदिर और मंदिर के महंत ओमेंद्र चौहान जी के वजह से प्रसिद्ध है। यहां आने वाले श्रद्धालु बताते हैं कि महंत जी पर खाटू श्याम जी की कृपा है जिसके कारण वे धाम में आने वाले श्रद्धालु जो किसी न किसी बीमारी से ग्रसित हैं उन्हें ठीक कर देते हैं। लोगो का मानना है कि महंत जी द्वारा बहुत से मरीजों की बीमारी ठीक हुई हैं, जिस वजह से मनौना धाम इतना प्रसिद्ध हो रहा है।

क्या मनौना धाम के महंत ओमेंद्र चौहान जी के चमत्कारों की कहानी?

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर

इस मंदिर और महंत जी सबसे ज्यादा अपने चमत्कारों और उनके द्वारा ठीक किये गए मरीज़ो के वजह से लोकप्रिय हो रहे हैं। यहाँ आने वाले भक्त और श्रद्धालु बताते हैं की महंत जी ने बहुत से मरीज़ो को ठीक किया है। जिसकी वीडियो आप यूट्यूब के माध्यम से भी देख सकते हैं। यहाँ महंत जी से मिलने के लिए भक्तो की बहुत लम्बी लाइन लगती है। कुछ लोगो का मानना है की महंत जी द्वारा बहुत से लोगो का इलाज हुआ है और उन्होंने बहुत से लोगो को ठीक किया है। अब इन बातो में कितनी सच्चाई है इस बारे में हम पूर्णता नहीं कहे सकते हैं।

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर आने का सबसे अच्छा समय?

इस मंदिर में दर्शन करने के लिए आप कभी भी आ सकते हैं। इस मंदिर की सबसे ज्यादा रौनक खाटू श्याम के जन्मदिन के दिन रहती है। यहाँ आप किसी भी मौसम में आ सकते हैं, यहाँ अधिकतर मौसम अच्छा ही रहता है। ठंडो में यहाँ गांव होने के कारण कुछ ज्यादा ठण्ड पड़ती है तो ठंडो में गर्म कपड़े अपने साथ जरूर रखे।

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर खुलने का समय?

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर में सुबह 5 बजे से भक्तो की भीड़ लगना शुरू हो जाती है। यह मंदिर सुबह 4 बजे से शाम में 10 बजे तक खुला रहता है तो आप इस समय कभी भी खाटू श्याम के दर्शन कर सकते हैं। यहाँ पर लगी रेलिंग जिसके द्वारा भक्त मंदिर तक जाते हैं उस पर लोग मन्नतो की डोरी बांधते हैं।

मनौना धाम आने पर कहाँ रुके?

मनौना धाम का अभी उस प्रकार से विस्तार नहीं हुआ है तो आपको यहाँ पर रुकने के लिए एक दो के अलावा कोई भी धर्मशाला या होटल्स नहीं मिलेंगे तो आप मनौना धाम में न रूककर आँवला मुख्य शहर में रुके। यदि आप बरेली डिस्ट्रिक्ट से बाहर से आ रहे हैं तो आप बरेली में एक रात रुक कर फिर अगले दिन से मनौना धाम में दर्शन के लिए जा सकते हैं। या फिर आप मनौना धाम में दर्शन के पश्चात आँवला से निकलकर बरेली में आकर एक रात रुक सकते हैं।

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर कैसे पहुंचे?

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर बरेली के आँवला शहर में है। बरेली से आँवला की दूरी 40 किलोमीटर है और मंदिर तक की दूरी 44 किलोमीटर है। आप किन-किन साधन द्वारा मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर जा सकते हैं तो अब हम उसके बारे में जानते हैं

बस द्वारा मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर कैसे पहुंचे?

यदि आप बस द्वारा मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर जाना चाहते हैं तो मैं आपको बता दू की बरेली मुख्य शहर से मंदिर तक की दूरी 44 किलोमीटर है। जिसे आप सरकारी रोडवेज बस द्वारा पूरा कर सकते हैं। रोडवेज बस आपको मुख्य सड़क पर आँवला में छोड़ देती है उसके बाद आपको मंदिर तक की दूरी को टेम्पो और रिक्सा द्वारा पूरा करना होगा। दिल्ली से बरेली की दूरी 286 किलोमीटर की है। दिल्ली ISBT से निरंतर बरेली के लिए बस चलती रहती हैं। जिसके बाद बरेली से मंदिर तक की दूरी को बस द्वारा तय किया जा सकता है।

ट्रेन द्वारा मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर कैसे पहुंचे?

मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर के सबसे निकट रेलवे स्टेशन आँवला रहतुइया रेलवे स्टेशन है। यह स्टेशन मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर से 7.6 किलोमीटर की दूरी पर है जिसे पूरा करने में आपको वहां के लोकल वाहन द्वारा लगभग 20 मिनट लगेंगे। आँवला रहतुइया रेलवे स्टेशन बरेली जिला और उत्तर प्रदेश के काफी स्टेशनो से सीधे तौर पर जुड़ा हुआ है। यदि आपको आँवला रेलवे स्टेशन के लिए सीधे ट्रेन नहीं मिलती हैं तो आप पहले बरेली आ सकते हैं। बरेली रेलवे स्टेशन से आँवला के लिए आसानी से ट्रेन मिल जाएँगी।

फ्लाइट द्वारा मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर कैसे पहुंचे?

अगर आप फ्लाइट से यहाँ आने के लिए सोच रहे हैं तो मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर के सबसे निकट एयरपोर्ट बरेली एयरपोर्ट है। यह एयरपोर्ट 8 मार्च 2021 में शुरू हुआ। आप एयरपोर्ट से प्राइवेट गाड़ी द्वारा बरेली बस अड्डा आ सकते हैं, जहाँ से आँवला के लिए सरकारी बस मिल जाएँगी। आँवला बस स्टैंड से प्राइवेट गाड़ी द्वारा आप मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर तक पहुंच सकते हैं।

मनौना धाम की कुछ महत्वपूर्ण बाते

  • धाम के महंत जी से मिलने के लिए आपको अर्ज़ी लगानी होती है जो की मनौना धाम पहुंच कर ही लगायी जाती है।
  • मनौना धाम में रुकने के लिए एक या दो ही धर्मशालाए हैं तो आपका बरेली या आँवला मुख्य शहर में रुकना सही रहेगा।
  • आप मंदिर में दर्शन करने के लिए जल्दी ही जाए क्यूंकि यहाँ दिन निकलते ही भक्तो की भीड़ लगना शुरू हो जाती है।
  • मुख्य सड़क पर मनौना धाम के द्वार से मंदिर अंदर 1 से 1.5 किलोमीटर की दूरी पर है जिसे आप पैदल या ऑटो द्वारा पूरा कर सकते हैं। .
  • यह मंदिर सड़कमार्ग द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है इसलिए आपको यहाँ पहुंचे में कोई भी दिक्कत नहीं होगी।

SOCIAL SHARE

1 thought on “मनौना धाम खाटू श्याम मंदिर, क्या है मंदिर और मंदिर के महंत के चमत्कारों की कहानी?, जाने धाम से सम्बंधित सभी जानकारियों को (Manauna Dham Khatu Shyam Temple, What is the story of the Temple and the Miracles of the Temple’s Mahant?, know all the information related to the Dham)”

  1. मुझे बाबा आप का आशीर्वाद प्राप्त करना है ओर मेरी अर्जी लगाई जाएं। आर्थिक परेशानी है बर्बाद हो चुका हूं। दुकान पर काम नहीं रहा है हर काम में घाटा हो रहा है किरपा करो बाबा

    Reply

Leave a comment